कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों का आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब, कुलगाम में 6 दहशतगर्दों को उतारा मौत के घाट

National
Google news

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में हुए दो एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने छह आतंकियों को मार गिराया है. हालांकि इन मुठभेड़ में दो जवान भी शहीद हुए हैं.

कश्मीर घाटी में इनदिनों सुरक्षा बलों ने आतंकियों के खिलाफ अभियान तेज कर दिया है. शनिवार को कुलगाम जिले में शुरू हुए दो एनकाउंटर में सेना के जवानों ने अब तक छह आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है. जबकि सेना के दो जवान शहीद भी हुए हैं. अधिकारियों के मुताबिक, ये मुठभेड़ शनिवार दोपहर कुलगाम के मोदरगाम और चिनिगाम गांवों में शुरू हुई थी. मारे गए इन 6 आतंकवादियों में से दो मदारगाम में मारे गए हैं जबकि बाकी चार आतंकियों को चिनिगाम में मार गिराया है.

बाग में ठिकाना बनाकर छिपे थे आतंकी

अधिकारियों के मुताबिक, कुलगाम के मोदरगाम में दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी. इस पर सुरक्षा बलों ने तुरंत एक्शन लिया और तलाशी अभियान शुरू कर दिया. इसके अलावा चिनिगाम फ्रिसल में एक और आतंकवादी के छिपे होने की संभावना पर सुरक्षा बलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया. इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चला दी. उसके बाद सुरक्षा बलों ने भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया और छह आतंकियों को मार गिराया. फिलहाल सेना के जवान आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चला रहा है.

एनकाउंटर में दो जवान भी शहीद

बता दें कि शनिवार को सबसे पहले मोदरगाम गांव में मुठभेड़ शुरू हुई थी. इस मुठभेड़ में पैरा कमांडो लांस नायक प्रदीप नैन शहीद हो गए. सुरक्षा बलों को यहां दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसके बाद सेना के जवानों ने सर्च ऑपरेशन चलाया और आतंकी ठिकानों को घेर लिया. इसके बाद फ्रिसल चिनिगाम गांव में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई. इस ऑपरेशन के दौरान प्रथम राष्ट्रीय राइफल्स के हवलदार राज कुमार शहीद हो गए.

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।