एकलव्य युवा मोर्चा ने मधुबनी में पिछड़ा समाज पर हुई मारपीट और दबंगई के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

 

भगवान किस कुसूर की दी है इन्हें सजा जिंदगी यही है तो जिंदगी में क्या ये गाना वैसे तो मोहम्मद अजीज के द्वारा गाया था जो कि गरीबो के ऊपर ही था आज उनके जाने के बाद यह सच्ची साबित हो रही है मधुबनी जिले में दबंगो के द्वारा गरीबो पर अत्याचार शोषण व जान लेवा हमला किया जा रहा है जिसको लेकर प्रशाशन भी कुछ नही कह रही है।

एकलव्य युवा मोर्चा के द्वारा मधुबनी जिला के किसनीपट्टी ग्राम में केवट ( कउट ) अतिपिछड़ा समाज के महिला तथा पुरुष के ऊपर जानलेवा हमला करने वाले उसी गांव के दबंगो की अविलम्ब गिरफ्तारी की मांग की गयी है।

मोर्चा के अध्यक्ष कमल कुमार कमलेश तथा सचिव मनोज कुमार चौधरी ने प्रेस बयान जारी कर बताया की केवट समाज के परिवार पर हमला कर महिला व पुरुषो को बेरहमी से पिटाई किया गया।मोर्चा ने इस अमानवीय तरीके से मार -पीट और अत्याचार की निंदा करते हुए स्थानीय प्रशासन पर आरोपितो की गिरफ्तारी और करवाई में शिथिलता तथा निष्क्रियता का आरोप लगाती है।

मोर्चा नेताओं ने कहा की प्रशानिक विफलता के चलते ही किसनीपट्टी ग्राम गांव में लगातार 3 – दिनों से गरीब लाचार पर परिवार अत्याचार किया जा रहा है।मोर्चा मांग करती है की दोषी को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाय।पीड़ित परिवार के जान – माल की सुरक्षा तथा आर्थिक सहयोग किया जाए।मोर्चा ने इस सन्दर्भ में एक ज्ञापन महामहिम राजयपाल एवं मुख्यमंत्री बिहार सरकार को समर्पित किया है।

Leave a Reply