BJP बोली- नोटबंदी से जनता खुश, फिर क्यों डर रही कांग्रेस? दागे 10 सवाल

केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा आज से ठीक दो साल पहले नोटबंदी की गई थी. 8 नवंबर, 2016 की शाम से ही 500 और 1000 रुपये के नोट बंद हो गए थे. आज नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर है, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत पूरी कांग्रेस आज केंद्र सरकार को कोस रही है.

अब भारतीय जनता पार्टी ने भी कांग्रेस पर पलटवार किया है. बीजेपी ने गुरुवार को कांग्रेस से दस सवाल किए और नोटबंदी को देशहित में फैसला बताते हुए कांग्रेस को विकास विरोधी बताया.

अपने दस सवालों में बीजेपी ने भ्रष्टाचार, कालाधन, इनकम टैक्स रिटर्न्स समेत कई मुद्दों पर कांग्रेस को घेरा. ये हैं भारतीय जनता पार्टी के कांग्रेस से दस सवाल…

  1. भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार द्वारा लिए गए फैसलों पर कांग्रेस हर बार प्रदर्शन क्यों करती है, उन्हें किस बात का डर है?
  2. ऐसा क्यों होता है कि जहां काला धन होता है, वहां से कांग्रेस दूर नहीं होती है?
  3. जिस फैसले ने टैक्स के बेस को बढ़ाया, उस फैसले का कांग्रेस विरोध क्यों कर रही है. क्या ये उसकी राजनीतिक और एंटी विकास सोच नहीं है.
  4. ऐसा कैसे हो सकता है कि पूर्व वित्त मंत्री ही भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे हुए हैं और उनके खिलाफ कई मामलों में जांच चल रही है.
  5. नोटबंदी के बाद से ही इनकम टैक्स रिटर्न्स में बढ़ोतरी हुई है, फिर भी कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, राज्यसभा में खड़े होकर इसका विरोध करते हैं. ऐसा क्यों?
  6. नोटबंदी के कारण गरीब और मिडिल क्लास लोगों को काफी फायदा पहुंचा, क्या यही कारण है कि कांग्रेस इसका विरोध कर रही है?
  7. क्या कांग्रेस इस बात से इनकार कर सकती है कि आज देश की जीडीपी बढ़ रही है, ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस में हम आगे बढ़ रहे हैं. क्या देश की आर्थिक तरक्की देख, कांग्रेस खुश नहीं है?
  8. हमेशा ऐसा क्यों होता है कि जब भी ग्लोबल लेवल पर भारत खड़ा हो रहा होता है, कांग्रेस देश की छवि बिगाड़ने की कोशिश करती है?
  9. कांग्रेस आज लघु उद्योगों की बात कर रही है, लेकिन क्या उनके राज में कभी उन्होंने इस क्षेत्र के लिए कुछ किया? उनके समय में सिर्फ टैक्स और रेड का खौफ रहता था.
  10. क्या कांग्रेस अपने एक भी ऐसे फैसले का नाम बता सकती है जिसने कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ एक्शन लिया हो?

सुरजेवाला ने मोदी को घेरा

कांग्रेस ने भी बीजेपी पर हमला बोला है. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला पर निशाना साधते हुए लिखा है, ”मोदी जी, देशवासियों को अब तक ‘अर्थव्यवस्था तहस-नहस दिवस’ यानि नोटबंदी की दूसरी बरसी की बधाई नहीं दी? कोई विज्ञापन भी नहीं? आप भूल गए होगे लेकिन देशवासियों को याद है. तैयार रहिए, पश्चात्ताप का समय अब दूर नहीं! जनता नोटबंदी का बदला BJP के ख़िलाफ़ वोट की चोट से लेगी.”

सुरजेवाला ने नोटबंदी को आज़ादी के बाद सबसे बड़ा घोटाला है. उन्होंने कहा कि नोटबंदी से कालाधन धारकों की हुई ऐश, रातों रात ‘सफेद’ बनाया सारा कैश. न काला धन मिला, ना नक़ली नोट पकड़े गए, ना ही आतंकवाद व नक्सलवाद पर लगाम लगी!

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *