लिव इन Relationship :- आज शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण का जरिया बन रहा है

Patna :-

लिव इन रिलेशनशिप आज शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण का जरिया बन रहा है, जिसकी चंगुल में राजधानी की युवतियां फंस रही हैं। शादी से पहले लिव इन में रहने की वकालत करने वाले ऐसे लोग भोली-भाली लड़कियों से फेक मैरिज सर्टिफिकेट दिखाकर उन्हें ठग रहे हैं। इसके अलावा पैसे ऐंठने और शारीरिक शोषण के बाद उनकी तस्वीरें वायरल करने के भी मामले आ रहे हैं। इस तरह के मामलों की संख्या पिछले एक साल में महिला आयोग और महिला हेल्पलाइन में बढ़े हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने लिव इन रिलेशनशिप को वैध ठहराया है, लेकिन इसका फायदा उठाकर युवतियों के साथ संबंध बनाए जा रहे हैं। कानून की आड़ में युवतियां शोषण का शिकार हो रही हैं। जानकारी के अभाव में कई मामले सामने आए हैं। बानगी के तौर पर कुछ केस स्टडी पर नजर डालें।

मैरिज सर्टिफिकेट से करने लगा ब्लैकमेल
एक प्राइवेट कम्पनी में काम करने वाली मंदिरी की गुड़िया (काल्पनिक नाम) को मनीष शादी का झांसा दे उसके साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगा। बाद में उसने रजिस्टर्ड मैरिज कर लिया। शारीरिक संबंध बनाने के बाद जब गुड़िया घर ले जाने के लिए  दबाव देने लगी तो वह बहाना बनाने लगा। वह घरवालों के न मानने का हवाला देने लगा। जब गुड़िया ने संबंध बनाने से मना कर दिया तो उसने न्यूड तस्वीरें उसके कम्पनी में बॉस को भेजने लगा।

पैसे ऐंठने के लिए विधवा के साथ रहने लगा 
आशियाना की सरिता ( काल्पनिक नाम) का देवर उसके पति के गुजर जाने का फायदा उठाकर पैसे ऐंठने के नीयत से लिव इन में रहने लगा। शादी का झांसा दे धीरे-धीरे सरिता के एलआइसी और तमाम फिक्स्ड डिपोजिट का पैसा अपने नाम करवा लिया। सरिता उससे शादी करने के लिए कहने लगी तो वह मुकर गया और भाग खड़ा हुआ।

बच्चा होने पर घर छोड़कर भाग गया 
लिव इन रिलेशनशिप में दो सालों से रह रही रागिनी (काल्पनिक नाम) को शादी करने का दिलासा देकर राजू उससे संबंध बनाता रहा। रागिनी के गर्भवती होने पर बार-बार उसे गर्भपात का दबाव बनाने लगा। इसी बीच रागिनी मां बनी तो राजू घर से भाग लापता हो गया।

जरा संभलकर
राजधानी की युवतियां फंस रही हैं लिव इन रिलेशनशिप के भ्रमजाल में
महिला हेल्पलाइन में बढ़े हैं इस तरह के मामले, शादी का झांसा देकर भाग जाता है युवक
कई युवतियों के साथ धोखा कर के उसकी जमा पूंजी भी लेकर हो गए चंपत
सुप्रीम कोर्ट ने इस रिश्ते को ठहराया है वैध, कानून की आड़ में युवतियां शोषण का हो रहीं शिकार इस तरह के मामले महिला हेल्पलाइन में बढ़े हैं। लिव इन रिलेशनशिप में शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण से बचने के लिए लड़कियों को समझदारी से काम लेना चाहिए, क्योंकि बायोलॉजिकल और सोशल दोनों ही इम्पैक्ट उनपर ही बुरा पड़ता है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *