राजकोट में टीम इंडिया का पलटवार, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी

राजकोटः ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज के शुरूआती मैच में करारी हार के बाद भारत पर काफी ज्यादा दबाव बढ़ गया है. पहले मैच में भारतीय टीम 15 साल बाद वनडे इंटरनेगलु शनल में कोई मुकाबला 10 विकेट से हारी. भारतीय बल्लेबाजों को टीम में नई जान फूंकते हुए सीरीज में वापस लाने के लिए अच्छा खेल हर हाल में दिखाना होगा.

ऑस्ट्रेलिया ने वानखेड़े में जिस तरह का प्रदर्शन किया था उसने एक तरह से मेजबान टीम की कई कमियों को उजागर किया था. शुक्रवार को राजकोट में दोनों देशों के बीच दूसरा एकदिवसीय मैच खेला जाएगा जो भारत के लिए नाक की लड़ाई से कम नहीं है. अगर यह मैच भारत हार जाता है तो न सिर्फ इस सीरीज को गंवा देगा बल्कि अपनी ही धरती पर ऑस्ट्रेलिया से लगातार पांच मैच हारने का शर्मनाक रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लेगा.

राजकोट में भारत का बैडलक

पिछले कुछ वर्षों में विराट कोहली के अगुआई वाली टीम इंडिया को ऐसे हालात का सामना बेहद कम मौकों पर करना पड़ा है, चाहे वह क्रिकेट का कोई भी फॉर्मेट हो। लेकिन, राजकोट में आज के वनडे इंटरनैशनल मैच में स्थितियां उलट हैं. भारत का राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में रिकॉर्ड बेहद खराब है. इस स्टेडियम में अब तक दो वनडे मुकाबले खेले जा चुके हैं और भारत को दोनों मौकों पर हार झेलनी पड़ी है.

आज टीम इंडिया की पूरी कोशिश होगी कि इस बैडलक को भी मात दिया जाए. भारत ने 11 जनवरी 2013 को एससीए स्टेडियम पर इंग्लैंड के खिलाफ पहला वनडे खेला था जिसमें उसे नौ रन से पराजय झेलनी पड़ी थी. उसके बाद 18 अक्टूबर 2015 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इसी मैदान पर टीम इंडिया 18 रनों से हारी.

राजकोट, जिसका विकेट पहले से ही बल्लेबाजी के लिए मुफीद माना जाता है, भारतीय बोलर्स के लिए मुश्किल चुनौती लेकर आ सकता है. भारतीय बल्लेबाजी क्रम में रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली और केएल राहुल अहम हैं लेकिन इन्हें गेंद खेलने के अलावा रन गति बनाकर रखनी होगी. ऋषभ पन्त सिर में चोट के कारण बाहर हुए हैं इसलिए उनकी जगह मनीष पांडे या केदार जाधव को खेलते हुए देखा जा सकता है. अगर शुरूआती बल्लेबाज अच्छी शुरुआत करने में सफल रहते हैं, तो मध्यक्रम को भी बेहतर खेलने की जरूरत होगी.

 

भारतीय बल्लेबाजी क्रम में रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली और केएल राहुल अहम हैं लेकिन इन्हें गेंद खेलने के अलावा रन गति बनाकर रखनी होगी. ऋषभ पन्त सिर में चोट के कारण बाहर हुए हैं इसलिए उनकी जगह मनीष पांडे या केदार जाधव को खेलते हुए देखा जा सकता है. अगर शुरुआती बल्लेबाज अच्छी शुरुआत करने में सफल रहते हैं, तो मध्यक्रम को भी बेहतर खेलने की जरूरत होगी.

 

दोनों देशों की संभावित एकादश

 

भारत: रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे/केदार जाधव, रविन्द्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर/नवदीप सैनी, मोहम्मद शमी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह.

 

ऑस्ट्रेलिया: आरोन फिंच, डेविड वॉर्नर, मार्नस लैबुशेन, स्टीव स्मिथ, टर्नर, एलेक्स कैरी, एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, झाय रिचर्डसन, एडम जाम्पा.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *