ममता ने विद्यासागर की प्रतिमा बनाने के प्रधानमंत्री के प्रस्ताव को ठुकराया

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समाज सुधारक पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर की नयी आवक्ष प्रतिमा को उसकी पुरानी जगह पर ही लगवाने के प्रस्ताव को यह कहते हुये ठुकरा दिया कि बंगाल के पास इसके लिए धन है। उन्होंने कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के ”हुल्लड़बाज थे जिन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान प्रतिमा तोड़ कर राज्य की विरासत नष्ट कर दी थी।

उन्होंने कहा, ”बंगाल को भाजपा से दान नहीं चाहिये। बंगाल नवजागरण का हिस्सा रहे विद्यासागर की नई आवक्ष प्रतिमा बनवाने के लिए हमारे पास धन है। क्या आपको यह कहते हुये शर्म नहीं आती कि बंगाल एक कंगाल राज्य है। बनर्जी इस सप्ताह शाह की एक रैली में कही गई एक बात का उल्लेख कर रहीं थीं जिसमें उन्होंने कहा था कि बनर्जी सरकार ने सोनार बांग्ला को कंगाल बांग्ला में तब्दील कर दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मऊ में एक चुनावी रैली में कहा कि उनकी सरकार विद्यासागर के नजरिये के प्रति समर्पित है और वादा किया कि उनकी पंचधातु की प्रतिमा उसी स्थान पर लगाई जायेगी, जहां उसे ”तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने उसे तोड़ दिया था। इस पर पलटवार करते हुये तृकां प्रमुख ने मोदी को झूठा बताते हुये कहा कि ऐसा व्यक्ति देश ने कभी नहीं देखा है।

बनर्जी ने दावा करते हुये कहा, ”मीडिया ने दिखाया कि किस तरह विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ी गई। बंगालियों के गर्व को चोट पहुंची है और वे भाजपा को बख्शेंगे नहीं। वे इसे (भाजपा) एक भी वोट नहीं देंगे।..यह बहुत चौंकाने वाली बात होगी अगर मोदी को एक भी बंगाली वोट दे दे।

लोकसभा चुनाव के सातवें एवं अंतिम चरण में दक्षिण बंगाल की नौ लोकसभा सीटों पर वोट डाले जाने हैं। बनर्जी ने दावा किया कि प्रधानमंत्री एक ऐसी जगह सार्वजनिक रैली कर रहे हैं जो गैर लाइसेंसी सूक्ष्म वित्तीय संस्थान चलाने वाले एक व्यक्ति की जमीन है। उन्होंने कहा, ”मैं उस जमीन के मालिक के खिलाफ एक मामला दर्ज करने जा रही हूं। क्या भाजपा को उससे कुछ मिला है? मुझे पता चला है कि वह व्यक्ति करोड़ों बना रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी फेसबुक और टि्वटर पर अफवाह फैला रही है और लोगों को इससे आगाह रहने की जरूरत है। बाद में उन्होंने डायमंड हार्बर में आयोजित एक रैली में कहा कि भाजपा ने अपनी हार को महसूस कर लिया है। उन्होंने कहा, ”जैसे जैसे चुनाव का अंतिम चरण आ रहा है, आप (मोदी) बौरा गये हैं और बकवास करने लगे हैं। उन्होंने भाजपा के ‘अच्छे दिन के नारे की भी आलोचना की और कहा कि भाजपा सरकार अब आदिवासियों और अल्पसंख्यकों को मार रही है।

चुनाव आयोग के गुरूवार को चुनाव प्रचार का अंतिम दिन घोषित किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये उन्होंने कहा, ”मुझे लगता था कि चुनाव आयोग निष्पक्ष होगा लेकिन ऐसा लगता है कि वह भाजपा के हाथों बिक गया है। अगर यह कहने के लिए मुझे जेल भेजा जाता है तो मैं तैयार हूं।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *