भागलपुर बाइपास पर हाईवे पेट्रोलिंग शुरू,एसएसपी आशीष भारती ने झंडी दिखा गश्ती दल को किया रवाना

 

विक्रमशिला सेतु से दोगच्छी तक 16.73 किमी बाइपास पर 24 घंटे होगी गश्ती

 

नवनिर्मित बाइपास पर सोमवार से हाईवे पेट्रोलिंग शुरू हो गई है।  पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम  में एसएसपी अाशीष भारती ने हाईवे  पेट्रोलिंग पार्टी को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। इस मौके पर  सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज,  सिटी डीएसपी राजवंश सिंह अौर  सार्जेंट मेजर रामप्रीत कुमार मौजूद  थे। एसएसपी अाशीष भारती ने  बताया कि हाईवे पेट्रोलिंग के लिए  पुलिस पार्टी को अलग से वाहन  अौर दो ड्राइवर उपलब्ध कराया गया  है। सेतु से दोगच्छी तक नवनिर्मित  16.73 किमी बाइपास पर 24 घंटे  उक्त पेट्रोलिंग पार्टी गश्त करेगी। दो शिफ्टों में पुलिसकर्मियों की ड्यूटी  लगाई गई है। ट्रैफिक डीएसपी  पार्टी की मॉनीटरिंग करेंगे। उनकी  गैर हाजिरी में ट्रैफिक इंस्पेक्टर के  अधीन हाईवे पेट्रोलिंग काम करेगी।  एसएसपी ने बताया कि बाइपास  टीअोपी के निर्माण की योजना है।  इसके लिए जगदीशपुर थानेदार को  जमीन तलाशने का निर्देश दिया  गया है।

जगदीशपुर में होगा बाइपास टीओपी का निर्माण

अभियोजन कोषांग को भी मिली गाड़ी

समय पर हो सकेगी गवाही

एसएसपी ने अभियोजन कोषांग को भी एक गाड़ी उपलब्ध कराई है। यह गाड़ी कोषांग प्रभारी इंस्पेक्टर अजीत कुमार  के अधीन रहेगा। इस गाड़ी के जरिए कोषांग प्रभारी गवाहों  को समय पर न्यायालय में गवाही के लिए लेकर अाएंगे।  कई बार गवाहों को अारोपी पक्ष की अोर से जान का खतरा  रहता है। इस कारण समय पर गवाही नहीं हो पाती है। एेसी  स्थिति में गाड़ी भेज कर कोषांग प्रभारी उक्त गवाह को घर  लाएंगे अौर फिर गवाही के बाद उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाएगे।  स्पीडी ट्रायल के दौरान गवाहों की डे-टू-डे कोर्ट में हाजिर  कराना पड़ता है। इसमें उक्त गाड़ी सहायक होगी। खासकर  सरकारी गवाहों को भी इस गाड़ी से कोर्ट लाया जाएगा।  शेरनी दल की गाड़ी का लुक बदला पिंक स्टिकर भी लगाए गए शेरनी दल की गाड़ी का भी लुक बदल दिया गया।  एसएसपी ने बताया कि गाड़ी में पिंक स्टीकर लगाए गए,  ताकि दूर से यह पता चल जाए कि यह गाड़ी महिलाअों  के लिए है। बता दें कि महिला अौर लड़कियों की सुरक्षा के लिए शेरनी दल का गठन किया गया था। पहले शेरनी  दल को ब्लू रंग की कमांडर जीप दी गई थी। लेकिन  अब उसी जीप का लुक बदल कर उसमें जगह-जगह  पिंक रंग से शेरनी दल लिखवा दिया गया है।

ट्रैफिक कंट्रोल का होगा काम

एसएसपी ने बताया कि बाइपास के बन जाने से गाड़ियों का आवागन अब उसी से होगा। पांच थानों  से होकर बाइपास गुजरती है, लेकिन ये सारे थाने  सड़क से दूर हैं। इस कारण एक डेडिकेटेड पेट्रोलिंग  पार्टी बाइपास पर 24 घंटे तैनात रहेगी, जो बाइपास  पर क्राइम अौर ट्रैफिक कंट्रोल करेगी। पेट्रोलिंग की  शुरूआत होने से यह कतई नहीं समझा जाए कि संबंधित थानों का दायित्व खत्म हो गया। संबंधित  थाने पहले की तरह अपने-अपने इलाके काम करते  रहेंगे। पेट्रोलिंग पार्टी उनके सहयोग करेगी। बाइपास के  अलावे उससे कनेक्टिंग सड़कों पर भी हाईवे पेट्रोलिंग  गश्त करेगी।

जीपीएस से लैस होगी गाड़ी फर्स्ट एड किट भी रहेगा

12 घंटे की ड्यूटी के दौरान हाईवे पेट्रोलिंग की गाड़ी को बाइपास  पर कहां-कहां रुकना है, यह भी  पहले से तय है। इसके लिए शेडो  एरिया भी चिह्नित किया गया है।  बाइपास पर जहां फ्लाई अोवर या  स्टेट व नेशनल हाइवे जुड़ता है,  वहां पेट्रोलिंग पार्टी को हर हाल  में रूकना है। वायरलेस के साथ  जीपीएस भी लगाया जाएगा और  फर्स्ट एड किट भी रहेगी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *