भागलपुर:बिच्छू के डंक से 13 घंटे बाद बच्चे की माैत, हंगामा

 

मेडिकल काॅलेज अस्पताल में बुधवार की शाम साढ़े 6 बजे ढाई साल के बच्चे प्रेम  कुमार की माैत पर परिजनाें ने हंगामा किया।  डाॅक्टराें व नर्साें से बकझक हुई, परिजनाें के  अाक्राेश काे देखते हुए सुरक्षा गार्डाें ने गेट  बंद कर दिया, इसके बाद बरारी पुलिस काे  सूचना दी गई। पुलिस के अाने पर परिजनाें काे  समझाबुझा कर शांत कराया गया। नाथनगर  के डीह दरियापुर के हरिदास के बेटे प्रेम  कुमार काे बुधवार की सुबह पांच बजे साेए  अवस्था में बिच्छू ने काट लिया था, इसके  बाद सुबह अाठ बजे उसे अस्पताल में भर्ती  कराया। यहां उसे अाॅक्सीजन पर रख कर  इलाज किया जा रहा था, अचानक शाम छह  बजे जब उसकी सांस रुकने लगी ताे डाॅक्टराें  व नर्साें ने सीपीअार करना शुरू किया, पर  तबतक उसकी माैत हाे चुकी थी। परिजनाें  का अाराेप है कि बच्चे के पेट काे जाेर-जाेर  से दबा कर मार दिया गया। जबकि डाॅक्टराें  का कहना है कि बच्चा गैसपिन में अा गया  ताे सीने काे दबा कर सीपीअार कर रहे थे।  लेकिन हमलाेग इसमें कामयाब नहीं हाे सके।  बच्चे का इलाज डाॅ. खलील अहमद के यूनिट  में चल रहा था। प्रेम के पिता हरि का अाराेप  है कि बच्चे का इलाज ठीक से चल रहा था,  नर्साें ने दाे-तीन बार हमे बाहर की दवा पर्चे  में लिख कर लाने काे दिया। दुकान में गए ताे  वह पर्चा पढ़ ही नहीं सका। उसने कहा कि अच्छे से लिखवा कर लाअाे, लेकिन यहां  अाने पर नर्साें ने टाइम चेंज हाेने की बात कह  कर दूसरी नर्स के पास भेज दिया, यहां दवा  ठीक से लिख कर दिया ही नहीं। इसके बाद  हमलाेग भी छाेड़ दिए, अाैर शाम काे बच्चे की माैत हाे गई।

पहले भी हुअा हंगामा : प्रेम की मौत होने से दस मिनट पहले ही तेज बुखार से ग्रसित साहू परबत्ता जमुनियां तुलसीपुर के लड्डू दास के 10  माह के पुत्र रणवीर की मौत हुई थी। परिजनों का आरोप है कि इलाज में  लापरवाही के चलते माैत हुई। समय से डाॅक्टर व नर्स नहीं देख रहे थे।  इसी बात काे लेकर परिजन हंगामा करने लगे, तब तक प्रेम की भी माैत हाे  गई ताे दाेनाें बच्चाें के परिजनाें का अाक्राेश फूट गया। इमरजेंसी में तैनात  डॉक्टराें ने कहा कि बच्चे की हालत गंभीर थी, जिसमें सीपीआर करना  चाहते थे, लेकिन डॉक्टर को परिजनाें ने ठीक से काम नहीं करने दिया।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *