बेटे ने मां-पिता को खूंटे से बांधा, डायन कह पिलाया मैला

अररिया : जिसने नौ माह कोख में पाल कर अपने बेटे को जवान बनाया. जिसके लिए रात-रात भर जागी. उसे इस लायक बनाया कि वह समाज में सिर ऊंचा कर चल सके. एक कुपुत्र ने उस मां को न केवल डायन कह कर प्रताड़ित किया, मैला पिलाया, बल्कि बलि देने के लिए शमशान तक लेकर चले गये. मां के ऊपर लगाया गया इल्जाम भी हैरत में डालने वाला है कि उस मां ने अपने कुल के चिराग पर डायन विद्या का प्रयोग कर मार डाला. बेटे विजय राम के आठ माह के पोते सत्या कुमार जो कि डायरिया से पीड़ित था, उसको डायन विद्या से मारने का आरोप लगाया.

घटना सिमराहा थाना क्षेत्र के मानिकपुर वार्ड संख्या 06 से जुड़ा हुआ है. पीड़िता कामनी देवी पति संतलाल राम ने एसपी को आवेदन देकर जान माल की सुरक्षा के साथ न्याय की भी गुहार लगायी है. पीड़िता ने दिये गये आवेदन में कहा है कि उसका समधी नारायण राम सहवाजपुर वार्ड संख्या 08 निवासी जो कि ओझा (झाड़-फूंक) का कार्य करता है. उसके अलावा उसका पुत्र अवधेश राम उर्फ टुनटुन राम, पंचलाल राम, लक्ष्मी राम, रघु राम, बिनोद राम, मनोज राम सभी मानिकपुर वार्ड संख्या 06 आरटीमोहन निवासी व सुल्तान राम पूर्वी औराही सिमराहा निवासी ने उसे व उसके पति संतलाल राम को घसीट कर पहले खूंटे से बांधकर पीटा इसके बाद मैला घोल कर पिला दिया. इससे भी जब जी नहीं भरा तो ऑटो पर लादकर उसे व उसके पति को सहवाजपुर स्थित शमशान स्थल पर ले गये. वहां पर मंत्रोच्चार कर उन दोनों की बलि ही देने जा रहे थे कि हो-हल्ला सुनकर कुछ राहगीरों ने दोनों की जान बचायी.

यह घटना बीते 18 दिसंबर 2018 की है. उसके बाद से दोनों पति-पत्नी अपने पुत्र व स्थानीय ग्रामीणों के डर से मारे-मारे फिर रहे हैं. न्याय की आस में सिमराहा थाना भी गये, लेकिन वहां भी न्याय नहीं मिला तो आठ जनवरी 19 को एसपी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है.

तंत्र-मंत्र के चक्कर में गयी बच्चे की जान : चंदन कुमार सिंह (सामजिक कार्यकर्ता)
अंधविश्वास, बाल-विवाह, नशा विरोधी जैसे कुरीतियों के खिलाफ घूम-घूम कर जन जागरण जागरूकता अभियान चला रहे ठिलामोहन के सामाजिक कार्यकर्ता सह भाजपा नेता चंदन कुमार सिंह ने पुत्र से ठुकराये मां व पिता को न्याय दिलाने का जिम्मा लिया है. उन्होंने कहा कि मानिकपुर के महादलित बस्ती में तंत्र-मंत्र के चक्कर में आठ महिने के बच्चे सत्या कुमार पिता विजय राम की मौत होने पर दु:ख व्यक्त किया. कहा कि आज लोग चांद पर बसने की तरकीब लगा रहे हैं. डिजिटल इंडिया से लैस समाज खेतों में बैठकर वीडियो कॉलिंग कर रहे हैं. वहीं गांवों में आज भी लोग ओझाओं के बात में आकर व तंत्र -मंत्र के चक्कर में फस कर न केवल अपनी जान गवां रहे हैं. बल्कि इसके बदले किसी के विरुद्ध झूठे आरोप लगा कर उन्हें मारने का भी प्रयास कर रहे हैं.

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष
इधर, इस संबंध में सिमराहा थानाध्यक्ष एमए हैदरी ने बताया कि आवेदन मिला, लेकिन जब जांच करने पुलिस पदाधिकारी कामनी देवी पति संतलाल राम के घर पहुंचे तो वे दोनों वहां नहीं मिले. इसके बाद से दोनों की तलाश की जा रही है. दोनों पति-पत्नी नहीं मिल रहे हैं. इससे दोनों से घटना की जानकारी नहीं ली जा सकी. उन्होंने कहा कि मामला दर्ज कर उचित कार्रवाई की जायेगी.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *