बांका से निर्दलीय उम्मीदवार पुतुल कुमारी भाजपा से निष्कासित

बांका लोकसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्‍याशी पुतुल कुमारी पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) बीजेपी की गाज गिरी है। उन्‍हें पार्टी से छह साल के लिए निष्‍कासित कर दिया गया है। पुतुल कुमारी ने बीजेपी में पद पर रहते हुए बांका से निर्दलीय प्रत्‍याशी के रूप में नामांकन किया है। बीजेपी ने उन्‍हें पहले पत्र देकर चेताया। जब बीजेपी नेत्री पुतुल कुमारी ने संगठन की बात नहीं मानी, तो पार्टी ने उन्‍हें 6 साल के लिए सस्‍पेंड कर दिया है।

 

 

बताया जाता है कि बीजेपी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री दिग्विजय सिंह की पत्‍नी पुतुल कुमारी पर पार्टी लाइन से हटकर बांका से नामांकन करने पर यह कार्रवाई की है। पुतुल कुमारी बांका से सांसद रह चुकी हैं। बता दें कि बांका लोकसभा क्षेत्र एनडीए की ओर से जदयू के कोटे में गया है। जदयू ने वहां से बेलहर के विधायक गिरिधारी यादव को बनाया है। नामांकन करने के बाद बीजेपी ने बीजेपी नेत्री पुतुल कुमारी को पत्र भेजकर नामांकन वापस लेने के लिए कहा था।

 

लेकिन बीजेपी की इस मांग को पु‍तुल कुमारी ने ठुकरा दी थी। इतना ही नहीं, उनके समर्थक पार्टी के इस पत्र को लेकर काफी गुस्‍से में थे। साथ ही पुतुल कुमारी का चुनावी प्रचार जारी था। आलाकमान का आदेश नहीं मानने के कारण नाम वापसी की तिथि समाप्‍त होने के बाद बीजेपी ने कार्रवाई की और पुतुल कुमारी को छह साल के निष्‍कासित कर दिया है। हालांकि इस कार्रवाई के बाद अभी पुतुल कुमारी मीडिया के सामने नहीं आयी है। गौरतलब है कि बांका से राजद ने वर्तमान सांसद जयप्रकाश नारायण यादव को अपना उम्‍मीदवार बनाया है।

 

बता दें कि पूर्व केंद्रीय मंत्री दिग्विजय सिंह की पत्नी पुतुल देवी ने 2014 का लोकसभा चुनाव बीजेपी के टिकट पर लड़ा था, लेकिन राजद के जयप्रकाश नारायण यादव के मुकाबले मामूली मतों से चुनाव हार गई थीं। गठबंधन में इस बार यह सीट जदयू के खाते में चली गई। इसकी वजह से भाजपा पुतुल सिंह को प्रत्याशी नहीं बना सकी।

 

भाजपा के प्रदेश महामंत्री राधा मोहन शर्मा ने शनिवार को बयान जारी कर पुतुल कुमारी को एनडीए केअधिकृत प्रत्याशी के विरुद्ध बांका से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन भरे जाने को लेकर पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया है। पुतुल के अलावा पार्टी ने बांका के पूर्व जिलाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह, पूर्व जिला महामंत्री जयशंकर चौधरी, जिला मंत्री दिनेश सिंह, जिला उपाध्यक्ष ब्रज किशोर सिंह, युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष देवाशीष पाण्डेय, महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष नीलम सिंह,अतिपिछड़ा मोर्चा के जिलाध्यक्ष जनार्दन सिंह दांगी एवं नारायण शर्मा, अमरपुर को पार्टी के विरूद्ध कार्य करने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है।

 

 

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *