दोस्त की बहन से प्रेम करने का विरोध करने पर छात्र को चाकू से गोदकर मारा

पटना. दोस्त की बहन से मोबाइल पर कॉल करने और प्रेम करने का विरोध करने पर प्लस टू के छात्र अमन राज को उसी के परिचित दोस्तों ने चाकू से गोदकर मार डाला। घटना पत्रकारनगर थाना के रामाश्रय पार्क के पास बीच सड़क पर हुई। करीब 18 साल के अमन को तीन-चार युवकों ने उसके पेट में तीन-चार वार किया, जिससे उसका किडनी व अहम अंग क्षतिग्रस्त हो गए। उसे पास के एक निजी अस्पताल ले जाया गया, पर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

 

बाद में उसे पीएमसीएच लाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इस घटना में एक और छात्र के घायल होने की बात सामने आई है, पर पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है। अमन पूर्वी इंदिरा नगर के रोड नंबर तीन में रहता था। उसके पिता अशोक कुमार अशोकनगर स्थित एक कपड़ा दुकान में काम करते हैं। अशोक को दो बेटा और दो बेटी है। अमन छोटा बेटा था।

अमन पीएन एंगलो स्कूल में 11वीं आई. कॉम का छात्र था। वह कंकड़बाग इलाके में स्थित रैंकर्स कोचिंग में पढ़ता था। अशोक मूल रूप से नौबतपुर के बिचली गले के रहने वाले हैं। अमन, उसका दोस्त और बहन भी उसी कोचिंग में पढ़ते हैं। आरोपी अभिषेक कुम्हरार तथा अन्य तीन आरोपी कुम्हरार व अगमकुआं के रहने वाले हैं।

 

पहले तीखी बहस हुई, अमन ने बुरा-भला कहा अभिषेक को

पिछले कई दिनों से अमन और उसका दाेस्त अभिषेक को मना कर रहा था कि वह दोस्त की बहन को कॉल न करे। उसके साथ प्रेम करना छोड़ दे। पर अभिषेक नहीं माना। सोमवार को अमन और उसका दोस्त कोचिंग में पढ़ने आए थे। इन दोनों ने फैसला किया था कि अभिषेक को फोन पर कॉल कर उसे समझा दिया जाएगा कि वह अपनी हरकत को छोड़ दे। करीब छह बजे अमन और उसका दाेस्त कोचिंग से पढ़कर निकले। अभिषेक को दोस्त ने फोन लगाकर बुलाया। अभिषेक पार्क के पास पहुंचा।

इसी बीच अभिषेक की अमन और उसके दोस्त से तीखी बहस हो गई। मारपीट की नौबत आ गई। अभिषेक उस वक्त अकेला था, वहां वहां थोड़ी देर के लिए यह कहकर चला कि हम तुम्हें यानी अमन को देख लेंगे। अभिषेक ने कॉल कर अपने तीन दोस्तों को बुला लिया और सभी पार्क के पास पहुंच गए। उस वक्त अमन और उसका दोस्त व अन्य भी थे। इसी बीच अभिषेक ने कमर से चाकू निकाला और तीन-चार वार उसके पेट में कर दिया। नतीजतन अभिषेक वहीं पर गिर गया। इस दौरान उसे बचाने में एक और छात्र जख्मी हो गया।

 

कंकड़बाग और पत्रकारनगर थाना को भनक तक नहीं लगी
चौंकाने वाली बात यह है कि घटना की जानकारी न पत्रकारनगर थाना को मिली और न ही कंकड़बाग थाना की पुलिस को। स्थानीय लोगों ने बताया कि अगर समय पर पुलिस पहुंच जाती या वाहन की चेकिंग इलाके में रहती तो आरोपी पकड़े जाते।

पिता बोले- किसी से नहीं थी दुश्मनी : अमन के पिता अशेाक कुमार ने बताया कि उसकी किसी से दुश्मनी नहीं थी। घर व परिवार में भी किसी से लड़ाई- नहीं हुआ है। उसकी हत्या की वजह नहीं मालूम है। कपड़ा की दुकान में काम करता हूं।
पीएमसीएच पहुंचे सिटी एसपी : मामले की गंभीरता को देखते हुए सिटी एसपी ईस्ट आरके भील मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पीएमसीएच में मौजूद अमन के दोस्तों से पूछताछ की। सिटी एसपी ने कहा कि घटना में चार लोगों के शामिल होने की बात सामने आई है। उनकी तलाश जारी है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *