गोड्डा एनडीए लोकसभा प्रत्याशी निशिकांत दुबे से मारपीट,विपक्ष पर लगाया आरोप

गोड्डा लोकसभा सीट से एनडीए प्रत्याशी सह भाजपा नेता निशिकांत दुबे के साथ रविवार दोपहर धक्का-मुक्की की खबर सामने आई। घटना के दौरान दुबे समर्थकों के साथ गोड्डा व महगामा जा रहे थे। इस दौरान पसई-पौडैयाहाट के बूथ पर वे पहुंचे। आरोप है कि इस दौरान विपक्ष के लोगों ने उनके साथ धक्का-मुक्की की। इस दौरान निशिकांत के साथ मौजूद पुलिसकर्मियों व सुरक्षाकर्मियों ने आरोपियों को वहां से हटाया। इस संबंध में निशिकांत दुबे ने एक फेसबुक पोस्ट भी किया है। गोड्डा सीट पर निशिकांत दुबे का मुकाबला महागठबंधन के प्रत्याशी सह झारखंड विकास मोर्चा के नेता प्रदीप यादव से है।

2009 और 2014 में गोड्डा में दुबे ने दर्ज की थी जीत
निशिकांत दुबे गोड्डा लोकसभा सीट से लगातार दो बार चुनाव जीत संसद पहुंचे हैं। साल 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में गोड्डा लोकसभा सीट से जीत दर्ज की थी। भाजपा ने तीसरी बार निशिकांत को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है।

शनिवार को निशिकांत के खिलाफ दर्ज किया गया था आचार संहित उल्लंघन का केस
निशिकांत दुबे के खिलाफ शनिवार को कुंडा थाने में आचार संहिता उल्लंघन का केस दर्ज किया गया है। ग्रामीण विकास विभाग की बीएसटी टीम के प्रवीण कुमार सिंह के बयान पर एफआईआर दर्ज की गई है। इससे पूर्व सहायक निर्वाची पदाधिकारी सह एसडीओ ने 16 मई को निशिकांत दुबे को नोटिस भी दिया था। निशिकांत पर 15 मर्इ काे कुंडा हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री की विजय संकल्प रैली के दाैरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाया गया है।

क्या कहा था निशिकांत दुबे ने
निशिकांत ने गोड्डा लोकसभा चुनाव लड़ रहे अपने प्रतिद्वंद्वी सह महागठबंधन के प्रत्याशी प्रदीप यादव पर कहा था कि जिस पार्टी में महिला की इज्जत सुरक्षित नहीं है, उसके नेता पर क्या कहना। उन्होंने प्रदीप यादव द्वारा लगाए गए आरोप पर कहा था कि मैं बाबा की कसम खाकर कहता हूं कि उस महिला का आज तक मैंने चेहरा तक नहीं देखा है। अपने भाषण में उन्होंने यह भी कहा था कि मुझे चुनाव में जीत मिले या पराजय, लेकिन प्रदीप यादव जेल जाएंगे। ऐसा नहीं होता है तो गोड्डा में आग लग जाएगी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *