आखिरी वनडे मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर, सीरीज पर 2-1 से भारत का कब्‍जा

बेंगलुरू : रोहित शर्मा की शतकीय और कप्‍तान विराट कोहली की अर्धशतकीय पारी के दम पर टीम इंडिया ने तीसरे और आखिरी वनडे मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर सीरीज पर 2-1 से कब्‍जा कर लिया. भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया के लक्ष्‍य (286 रन) को 47 ओवर और 3 गेंदों में तीन विकेट पर 289 रन बनाकर पूरा कर लिया.

भारत की जीत में रोहित शर्मा (119) और कप्‍तान विराट कोहली (89) रन की बड़ी भूमिका रही. आज शिखर धवन के चोटिल होने से राहुल ने रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत की. लेकिन कुछ खास नहीं कर पाये और 27 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 19 रन बनाकर एगर की गेंद पर पग बाधा आउट हुए. रोहित शर्मा 128 गेंदों में 8 चौके और 6 छक्‍कों की मदद से 119 रन बनाया और जंपा की गेंद पर आउट होकर पवेलियन लौट गये.

कप्‍तान विराट कोहली 91 गेंदों में 8 चौकों की मदद से 89 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर आउट हुए. आउट होने से पहले उन्‍होंने बतौर कप्‍तान सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गये. उन्‍होंने महेंद्र सिंह धौनी का रिकॉर्ड तोड़ा. कोहली कप्‍तान के रूप में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में कुल 12208 रन हो गये हैं. धौनी के 12207 रन हैं.

इससे पहले स्टीव स्मिथ के नौवे वनडे शतक के बाद भारत ने आखिरी दस ओवर में शानदार वापसी करते हुए निर्णायक तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया को नौ विकेट पर 286 रन पर रोक दिया.

स्मिथ ने 132 गेंद में 131 रन बनाये लेकिन उन्हें दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिल सका. उनके अलावा मार्नस लाबुशेन ने 64 गेंद में 54 रन बनाये. मोहम्मद शमी ने डैथ ओवरों में शानदार गेंदबाजी करते हुए तीन विकेट चटकाये.

उन्होंने दस ओवर में 63 रन देकर चार विकेट लिये. ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी दस ओवर में 63 रन के भीतर पांच विकेट खोये. इससे पहले लगातार तीसरी बार ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीता, लेकिन इस बार बल्लेबाजी का फैसला किया. कोहली ने पिछला मैच जीतने वाली टीम में कोई बदलाव नहीं किया हालांकि ऋषभ पंत चयन के लिये उपलब्ध थे.

के एल राहुल लगातार दूसरे मैच में विशेषज्ञ विकेटकीपर के रूप में उतरे. ऑस्ट्रेलिया ने फार्म में चल रहे सलामी बल्लेबाजों डेविड वार्नर (तीन) और आरोन फिंच (19) के विकेट जल्दी गंवा दिये. शमी ने वार्नर को बाहर जाती बेहतरीन गेंद पर पवेलियन भेजा.

दूसरी ओर फिंच के रन आउट के लिये स्मिथ कसूरवार रहे जिन्होंने कप्तान को रन लेने के लिये बुलाया लेकिन बाद में मन बदल लिया. आम तौर पर शांतचित्त रहने वाले फिंच गुस्से में बुदबुदाते हुए ड्रेसिंग रूम की तरफ गए. पहले पावरप्ले में ऑस्ट्रेलिया ने दो विकेट पर 56 रन बनाये जब स्मिथ और लाबुशेन क्रीज पर थे.

दोनों ने 127 रन की साझेदारी में जबर्दस्त आपसी तालमेल का परिचय दिया. राजकोट वनडे में 46 रन बनाने वाले लाबुशेन ने यहां अर्धशतक बनाया. वह बड़ी पारी की ओर अग्रसर लग रहे थे, लेकिन विराट कोहली ने कवर में डाइव लगाकर उनका दर्शनीय कैच लपका.

रविंद्र जडेजा ने ओवर में दूसरा विकेट लिया जब एलेक्स कारे से पहले भेजे गए मिशेल स्टार्क ने डीप मिडविकेट में कैच थमाया. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर इस समय 32 ओवर में चार विकेट पर 173 रन था. दूसरे छोर पर स्मिथ अच्छा खेल रहे थे, लेकिन 300 रन पार करने के लिये ऑस्ट्रेलिया को अच्छी साझेदारी की जरूरत थी.

स्मिथ और कारे (35) ने पांचवें विकेट के लिये 58 रन जोड़े, लेकिन कारे ज्यादा देर टिक नहीं सके. शुक्रवार को शतक से दो रन से चूके स्मिथ ने थर्डमैन पर एक रन लेकर तिहरा अंक छुआ. यह तीन साल में वनडे क्रिकेट में उनका पहला शतक है.

उन्होंने 46वें ओवर में नवदीप सैनी को एक छक्का और एक चौका लगाया. इसके बाद जसप्रीत बुमराह को लगातार दो चौके लगाये. वह डीप मिडविकेट पर श्रेयस अय्यर को कैच देकर लौटे. शमी ने आखिरी ओवरों में पैट कमिंस और एडम जाम्पा को बोल्ड किया.

 

टीमें

 

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), जसप्रीत बुमराह, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, मनीष पांडे, लोकेश राहुल, नवदीप सैनी,

 

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी, पैट कमिंस, एश्टन एगर, जोश हेजलवुड, मार्नस लाबुशेन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, एश्टन टर्नर, डेविड वॉर्नर, एडम जाम्पा.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *